TISIYAURI (400 gm)
Rs. 143.0000 1
Check Cash On Delivery


Sale
Zoom

TISIYAURI (400 gm)

Price: Rs.150 Rs.143 5% OFF
Product Code: mts01
Availability: 1



तीसयौड़ी-TISIYORI
*******************
मिथिला के पारंपरिक ब्यंजनो मे तीसीयौड़ी यानी तीसी के बीज (Flex Seed) की बड़ी को भूनकर भोजन के साथ परोसने की पुरानी पंरपरा है। ताजे तीसी के बीज को हल्के से आँचपर भूनने के बाद इसे पीसकर दाल और सब्जियों मे मिलाकर परोसा जाता है।


  • तीसीयौड़ी का लाभ
    *****************
    (१) तीसीयौड़ी की विलक्षणता के तीन पहलू हैं और यह हमें इस खाद्य से स्वास्थ्य लाभ पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। पहला है ओमैगा थ्री फैटी एसिड्स, दूसरा प्लांट एस्ट्रोजन/एंटी ऑक्सीडैंट्स और तीसरा फाइबर।
    (२) तीसीयौड़ी हमारी पाचन शक्ति बढ़ाती है और हमारे शरीर को ऊर्जा देने में सहायता करती है।
    (३) तीसी के बीज शरीर में ताप पैदा करते हैं, जो सर्दी तथा बरसात में जुकाम-खांसी से राहत देने में सहायक होता है।
    (४) तीसी के बीजों में फाइबर, विटामिन्स तथा प्रोटीन्स प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं। प्रोटीन्स शरीर के सही विकास में सहायक होते हैं। तीसीयौड़ी में फाइबर की मात्रा उच्च होने के कारण कोलोन का स्वास्थ्य बरकरार रहता है और आंतडिय़ों की गतिविधि में सुधार होता है।
    (५) तीसी के बीजों में ओमैगा थ्री फैटी एसिड्स मौजूद होते हैं जो छाती में सूजन को कम करते हैं, हृदय रोगों से बचाते हैं और जोड़ों के दर्द, अस्थमा, डायबिटीज तथा कई किस्मों के कैंसर को भी रोकते हैं।
    (६) तीसीयौड़ी में मौजूद एंटीऑक्सीडैंट्स रक्त को शुद्ध करते हैं, त्वचा तथा बालों को चमक देते हैं। ये शरीर की कई रोगों से सुरक्षा भी करते हैं।
    (७) तीसी के बीजों में मौजूद फाइटो-एस्ट्रोजैन्स महिलाओं में रजोनिवृत्ति के बाद के लक्षणों से लडऩे में सहायक होते हैं। माहवारी के दौरान जिन महिलाओं को अत्यधिक पेट दर्द होता है, वे अलसी के बीजों से इस दर्द से राहत पा सकती हैं।
    (८) एक छोटा चम्मच तीसी के बीजों को चबाने से आपको पेट संबंधी समस्याओं तथा पैप्टिक अल्सर से छुटकारा मिल सकता है।
    (९) तीसी के बीज को पीसने के बाद इसे जल्दी से जल्दी उपयोग कर लेना चाहिए, तीसी का बिचूर्ण हवा के संपर्क में आने के बाद इसके गुणों में कमी होने लगती है, इसलिए इसे एयर टाइट डिब्बे में रखना चाहिए तथा इसके विचूर्ण को एक सप्ताह के अंदर उपयोग कर लेना चाहिए।
    (१०) तीसी के बीज को भूनकर इसे डब्बे में बंद कर रख सकते हैं, जरूरत के हिसाब से इसका बिचूर्ण बनाकर उपयोग करना ज्यादा लाभदायक होता है।

Write a review

Your Name:


Your Review: Note: HTML is not translated!

Rating: Bad           Good

Enter the code in the box below:



0 scrolltotop